बुखार से दो की मौत, कीर्तिखेड़ा में 150 बीमार

फतेहपुर: बिंदकी तहसील में 42 व सदर में 3 गांव बुरी तरीके से प्रभावित। शिथिल पर्वेक्षण के चलते सुरसा की तरह मुंह फैला रही बीमारी। पिछले 3 महीनों में बिंदकी तहसील के 42 गांवों में 86 लोगों की जिंदगी निगलने वाली बुखार की बीमारी अभी भी कमजोर नहीं हो रही है।पिछले दो दिनों में बुखार के चलते मोतीपुर में एक महिला और कीर्ति खेड़ा में एक पुरुष की मौत हो गई है। जबकि कीर्ति खेड़ा में अभी भी डेढ़ सौ लोग बुखार की चपेट में है यहां राहत और बचाव की कोई भी टीम नहीं पहुंची है। बीमारों की हो रही मौतों से प्रभावित लोगों में दहशत फैली हुई है। सदर तहसील के मुत्तौर ,अढ़ा‌वल और कीर्ति खेड़ा में डेंगू बुखार का प्रकोप एक पखवाड़े से चल रहा है।यहां बीमारी की गिरफ्त में आए लोग निजि पैथोलॉजी में जांच कराते हैं तो डेंगू निकलता है,लेकिन वहीं बीमार सरकारी अस्पताल में जांच के लिए जाते हैं तो उन्हें डेंगू नेगेटिव बताया जाता है । कीर्ति खेड़ा गांव निवासी 50 वर्षीय पृथ्वीपाल सोनकर पिछले 3 दिन से बीमार थे लगातार गिर रही प्लेटलेट्स एक कारण स्वजन कानपुर ले जा रहे थे रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। इसी गांव में जगतपाल की पत्नी सीतामती की हालत अब भी गंभीर है जिसका उपचार कानपुर में चल रहा है । जगतपाल के अनुसार गांव में डेढ़ सौ से ज्यादा लोग बुखार से पीड़ित हैं परंतु गांव में कोई सरकारी टीम नRead More…