बी.डी.ओ अरविंद कुमार ने किया है करोड़ों का घोटाला – रवि डे

चंदवा से मानवाधिकार मीडिया मुमताज की रिपोर्ट,

चन्दवा प्रखण्ड के तत्कालीन बीडीओ अरविंद कुमार ने कार्यकाल सन 2018 से सन 2020 तक कि अवधि में प्रखण्ड कार्यालय से कई प्रकार के घोटालों को अंजाम दिया है।

सोलर जल मीनार निर्माण,मनरेगा सप्लाई, प्रधानमंत्री आवास योजना में इनके कार्यकाल में भारी गड़बड़ी हुई है। साथ ही रवि डे ने यह भी कहा की चन्दवा प्रखण्ड में लगें करीब 270 जल मीनार निर्माण में तकरीबन 9 से 10 करोड़ रुपया खर्च हुआ है।इन जल मीनारों में घटिया सामग्री लगाकर प्राकलन राशि का 60 प्रतिशत राशि का बंदर बाट किया गया है। बीडीओ कुमार ने इस योजना से भारी कमीशन की वसूली किया है, चन्दवा प्रखण्ड में यह योजना गरमी आने से पहले ही फेल साबित हो गया है। रॉयल्टी घोटाले का चर्चा पूरे लातेहार ज़िलें में है तथा मनरेगा वेंडरों से रॉयल्टी की वसूली भी हो रही है इस घोटाले को अंजाम देने वाले अधिकारोयों पर भी कार्यवाही होनी चाहिए। सितम्बर 2020 में जब मेरे द्वारा सूचना का अधिकार अधिनियम कानून के तहत बीडीओ सह जन सूचना पदाधिकारी चन्दवा से सोलर जल मिनार निर्माण व मनरेगा सप्लाई के सम्बन्ध में सूचना मांगी गई तब इन्होंने इस सम्बंध में बहुत ही भ्रामक और असंतोष जनक सूचना देने का काम किया। जिससे यह सिद्ध हो गया कि बीडीओ कुमार ने करोड़ों रुपया का गबन किया हैं। इनके करतूतों के बारे में उपायुक्त लातेहार को कई बार अवगत कराया परन्तु फलाफ़ल शून्य है। मुख्यमंत्री झारखंड , मुख्यसचिव झारखंड , ग्रामीण विकास मंत्री झारखंड , ग्रामीण विकास सचिव झारखंड से मांग करता हूँ कि इनके कार्यकाल 2018 से 2020 तक गहन व निष्पक्ष जाँच करवा कर सख्त कार्यवाही करवाने का कष्ट करें तथा बीडीओ कुमार के निजी सम्पत्ति की जाँच निगरानी ब्यूरो से हो।