शिक्षा मंत्री मेवालाल के बाद नीतीश के स्वास्थ्य मंत्री को हटाने की मांग, राजद बोली- जनता की आवाज सुने सरकार

शिक्षा मंत्री मेवालाल के बाद नीतीश के स्वास्थ्य मंत्री को हटाने की मांग, राजद बोली- जनता की आवाज सुने सरकार

बिहार
बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (फाइल फोटो)

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (फाइल फोटो)

भकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल ने कहा कि मेवालाल के बाद मंगल पांडेय (मंगल पांडे) जैसे कलाकारों को भी तत्काल कल्याण से बाहर किया जाना चाहिये

पटना। भ्रष्टाचार के आरोपों पर बिहार के नवनियुक्त शिक्षा मंत्री डॉ। मेवालाल चौधरी को रिजफा देना पड़ रहा था। महागठबंधन इस मुद्दे को और आगे बढ़ाना चाहता है और इसमें शामिल दलों के नेता मेवालाल के बाद स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (मंगल पांडे) जैसे कलाकारों को भी तत्काल प्रयास से बाहर करने की जरूरत बता रहे हैं। राजद सांसद मनोज झा (मनोज झा) ने कहा कि राज्य में पूरे कोरोनाकाल में स्वास्थ्य सेवा लचर थी, लेकिन उन्हें फिर से उसी विभाग का मंत्री बना दिया गया है। बिहार में स्वास्थ्य विभाग में अलग पहलू देना चाहिए, क्योंकि वह एक कठपुतली हैं जिसका डोर कहीं और है।

इसी क्रम में भकपा-माले के राज्य सचिव कुनाल ने कहा कि मेवालाल के बाद मंगल पांडेय जैसे कलाकारों को भी तत्काल संपर्क से बाहर किया जाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के समय में मंगल पांडेय नकारा साबित हुए हैं। पूरे बिहार में लगातार उनकी बर्खास्तगी की मांग उठाती रही है, लेकिन फिर से उन्हें स्वास्थ्य मंत्री बना दिया गया।

कुणाल ने यह भी कहा कि उनके मंत्रित्वकाल में स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत चरमाराई हो रही है, लेकिन सरकार ने उन्हें फिर से इसी मंत्रालय की जिम्मेदारी दी है। सरकार को बिहार की जनता की आवाज सुनानी चाहिए। बता दें कि मंगल पांडेय के कार्यकाल में कोरोना को संभाल नहीं पाने के आरोपों के तहत दो स्वास्थ्य सचिवों को अपना पद गंवाना पड़ा था।

वाम नेता ने कहा कि सरकार के गठन के तीन दिन के अंदर शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी कोडिया से हटाए जाने पर कहा कि यह जनदबाव का नतीजा है। साथ ही जनता की जीत है। उन्होंने कहा कि पहले ही दिन से भकपा-माले, पूर्ण विपक्ष और बिहार की जनतार्शि व्यक्ति को शिक्षा मंत्री जैसे पद दिए जाने का विरोध कर रही थी। जब पूरे बिहार में इसका प्रतिवाद हुआ तो मजबूरन मेवालाल चौधरी को पद से हटाना पड़ा है।